समस्तीपुर में पूर्व जिला पार्षद पर जानलेवा हमले में छह गिरफ्तार



06 Feb  '21 | Samastipur Today

समस्तीपुर में पूर्व जिला पार्षद पर जानलेवा हमले में छह गिरफ्तार






समस्तीपुर । शहर के सटे धर्मपुर मुहल्ले में गुरुवार को सरेआम पूर्व जिला पार्षद अरुण राय और उनके स्वजनों पर हुई जानलेवा हमला व फायरिग मामले में मुफस्सिल पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना में संलिप्त छह आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार की पहचान मुफस्सिल थाना क्षेत्र के धर्मपुर चकनूर निवासी सैयद जुल्फेकार उर्फ तमन्ना के पुत्र आतीफ और आबिद, अब्दुल के पुत्र अब्दुल शमद, न्यू कॉलोनी निवासी मुस्लिम के पुत्र फहद वितस, परवेज आलम उर्फ सागर के पुत्र फरहान उर्फ गौरव और चकनूर निवासी आजाद के पुत्र आशिफ के रूप में हुई है। शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक विकास बर्मन ने मामले का पर्दाफाश किया। बताया कि गिरफ्तार आरोपित एक संगठित गिरोह के सदस्य हैं। क्षेत्र में मारपीट, रंगदारी, गुंडागर्दी की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे।




गिरफ्तार सभी आरोपितों का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है। नगर, मुफस्सिल समेत विभिन्न थानों में आ‌र्म्स एक्ट, लूट, डकैती, छिनतई, रंगदारी, हत्या के प्रयास समेत एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। गुरुवार को हुई घटना को अंजाम देकर सभी आरोपित भागने की फिराक में था। गुप्त सूचना के आधार पर सदर डीएसपी प्रीतिश कुमार के नेतृत्व में गठित विशेष टीम ने मोहनपुर पुल के निकट सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपित आतीफ और आबिद उर्फ बसफी दोनों भाई हैं। इनके विरुद्ध नगर, मुफस्सिल व ताजपुर थाना में आ‌र्म्स एक्ट, अपहरण, डकैती, छिनतई, हत्या के प्रयास समेत एक दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं।




इनके अलावे गिरफ्तार अन्य चार आरोपितों का भी आपराधिक इतिहास रहा है। गिरफ्तार आरोपितों ने घटना में संलिप्ता स्वीकार की है। छापेमारी दल में मुफस्सिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य, कल्याणपुर थानाध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह, डीआइयू प्रभारी परमानंद लाल कर्ण, पुअनि चंद्रकिशोर टुडू, सअनि परशुराम सिंह, सेक्टर मोबाइल गणेश कुमार, नवनीत कुमार, निरंजन कुमार समेत डीआइयू टीम के सशस्त्र बल शामिल रहे।
class="separator" style="clear: both; text-align: center;" >












समस्तीपुर : भाजपा नेता अरुण राय पर हमला, आरजेडी नेता ललन यादव ने कहा - अपराधी का कोई पार्टी नहीं होता.






राजद नेता ललन यादव ने कहा - अपराधी एवं असामाजिक तत्वों का कोई पार्टी नहीं होता है.


समस्तीपुर शहर गुरुवार की सुबह गोलियों की तरतराहट से गूंज उठा। जानकारी के अनुसार मुफस्सिल थाना क्षेत्र के धर्मपुर में पूर्व जिला पार्षद और भाजपा नेता अरुण राय पर कुछ असामाजिक तत्त्वों ने अचानक हमला बोल दिया। हमलावरों ने बीजेपी नेता पर पहले रॉड, लाठी-डंडे से हमला किया और फिर करीब 10 से 15 राउंड फायरिंग की। 



गनीमत यह रही कि बीजेपी नेता को एक भी गोली नहीं लगी, हालांकि लाठी-डंडे से मारपीट के बाद वे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की सुचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। इस मामले को लेकर भारी तनाव को देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया एवं दंगा निरोधी वाहन इलाके में गस्त कर रही है। 





भाजपा नेता अरुण राय का आरोप है कि हमलावर स्थानीय विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन के समर्थक हैं और हत्या करने की नियत से उनपर हमला किया गया है। गोली मारने के इरादे से ट्रिगर दबाया पर फायर मिस हो गया। जिससे उनकी जान बच गई। किसी तरह उन्होंने भागकर खुद को बचाया।



वहीं भाजपा के नेताओं ने कहा कि विपक्ष के लोग ही सरकार को बदनाम करने के लिए कानून व्यवस्था बिगाड़ने का काम कर रहे हैं। वहीं राजद के नेताओं ने भाजपा के आरोप को सिरे से खारिज करते हुए कहा है कि अपराधी किसी दल का नहीं होता है। इस घटना के लिए भी सत्ताधारी दल ही जम्मेदार है। इस सरकार में अपराधी बेलगाम हो गए हैं,  जिसका नतीजा है कि जो जब और जहां चाहे आपराधिक घटना को अंजाम दे देता है। फिलहाल इस घटना को लेकर इलाके में तनाव व्याप्त है। 






















Download CBSE date sheet 2021: सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाओं की डेटशीट जारी, यहां से करें डाउनलोड.











Download CBSE date sheet 2021: सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाओं की डेटशीट जारी, यहां से करें डाउनलोड


02 Feb  '21 | Samastipur Today


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं की पूरी डेटशीट जारी कर दी. इसे सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है. बोर्ड की परीक्षाएं 4 मई से शुरू हैं, जो 10 जून तक चलेंगी.


यहां से करें डाउनलोड








सीबीएसई बोर्ड 10वीं और 12 वीं परीक्षा का टाइमटेबल डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट cbse.gov.in पर जाएं. यहां सीबीएसई कक्षा 10 और कक्षा 12 की डेटशीट 2021 लिंक एक्टिव होने के बाद उस पर क्लिक करें, जिसके बाद यहां से सीबीएसई 10वीं कक्षा की परीक्षा की पीडीएफ डेट शीट डाउनलोड किया जा सकेगा.


सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा का टाइमटेबल


10वीं परीक्षा का टाइमटेबल


तारीख- विषय
6 मई - इंग्लिश
10 मई - हिन्दी (कोर्स ए व बी)
15 मई - विज्ञान
17 मई - पेंटिंग
18 मई - म्यूजिक
20 मई - गृह विज्ञान
21 मई - मैथ्स
27 मई - सामाजिक विज्ञान
2 जून - संस्कृत
7 जून - कंप्यूटर एप्लीकेशन


12वीं परीक्षा का टाइमटेबल
तारीख- विषय
4 मई - इंग्लिश (इलेक्टिव व कोर)
5 मई - टेक्सेशन
8 मई - फिजिकल एजुकेशन
10 मई - इंजीनियरिंग ग्राफिक्स, मीडिया, शॉर्टहैंड
12 मई - बिजनेस स्टडीज
13 मई - फिजिक्स/ एप्लाइड फिजिक्स
15 मई - रिटेल/ मास मीडिया
17 मई - अकाउंटेसी
18 मई - केमिस्ट्री
19 मई - पॉलिटिकल साइंस
21 मई - संस्कृत (इलेक्टिव व कोर)
24 मई - बायोलॉजी
25 मई - इकोनॉमिक्स
28 मई - सोशोलॉजी
29 मई - कंप्यूटर साइंस / आईटी
31 मई - हिन्दी (कोर व इलेक्टिव)
2 जून - ज्योग्राफी
3 जून - वेब एप्लीकेशन / टूरिज्म
5 मई - साइकोलॉजी
7 जून - गृह विज्ञान
10 जून - हिस्ट्री
11 जून - बायोटेक्नोलॉजी/ एग्रीकल्चर
















Breaking News : इंटर की परीक्षा देने जा रहे बाइक सवार को ट्रक ने रौंदा, पिता-पुत्र की दर्दनाक मौत.


01 Feb  '21 | Samastipur Today








बिहार के वैशाली जिले में आज सुबह को हुए एक सड़क हादसे (Road Accident) में पिता-पुत्र की दर्दनाक मौत हो गई. घटना सहदेई से है जहां एनएच 322 (NH) पर तेज रफ्तार अज्ञात वाहन ने बाइक सवार पिता-पुत्र को कुचल दिया जिससमे उनकी मौके पर ही मौत हो गई जबकि इस हादसे में एक अन्य युवक गंभीर रूप से घायल हो गया है जिसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है.


स्थानीय लोगों के मुताबिक मृतक युवक अपने पिता के साथ बाइक से इंटर की परीक्षा देने जा रहा था वहीं घायल हुआ छात्र भी इंटर का ही परीक्षार्थी बताया जा रहा है. लोगों के मुताबिक घने कोहरे के कारण भीषण सड़क हादसा हुआ,  जिसके चलते पिता-पुत्र की मौके पर मौत हो गई.



दोनों मृतक और घायल युवक जंदाहा थाना इलाके के बताए जा रहे हैं. घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाने की पुलिस और जंदाहा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन में जुटी है. घटनास्थल पर लोगों की भारी भीड़ जमा है. पुलिस दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी कर रही है.




Army Recruitment 2021 : सेना भर्ती में समस्तीपुर और शिवहर के युवाओं ने दिखाया दम, 412 ने दौड़ में मारी बाजी.





सेना भर्ती के चौथे दिन रविवार को सोल्जर जनरल ड्यूटी (जीडी) पद के लिए भर्ती की प्रक्रिया हुई। जिसमें समस्तीपुर और शिवहर के 2548 अभ्यर्थियों ने दौड़ में हिस्सा लिया। जिसमें 412 दौड़ निकालने में सफल रहे। इसके बाद इन युवकों के शैक्षणिक व आवासीय प्रमाण पत्र की जांच की गई। अब इनकी मेडिकल जांच होगी।

सोल्जर जीडी पद के लिए 4611 युवकों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया था। लेकिन, कड़ाके की ठंड में 2548 अभ्यर्थी ही भर्ती में पहुंच सके। अलग-अलग टुकड़ी में तकरीबन दो-दो सौ युवकों को दौड़ाया गया। जिसमें से 412 युवकों ने बाजी मार ली। इधर, वहीं, पूर्व में सोल्जर टेक्निकल पद के लिए चयनित 1095 अभ्यर्थियों की मेडिकल जांच रविवार को चक्कर मैदान में की गई।

आज मुजफ्फरपुर की बारी, 4330 ने कराया है ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन:  सोमवार को चक्कर मैदान में मुजफ्फरपुर जिले के युवक सोल्जर जीडी पद पर भर्ती के लिए दौड़ लगाएंगे। इसके लिए जिले के 4330 युवकों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है।

सदर अस्पताल में फिटनेस सर्टिफिकेट में देरी होने पर अभ्यर्थियों का हंगामा : सेना भर्ती के लिए स्वास्थ्य प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आए युवाओं ने हंगामा किया। रविवार व अवकाश का दिन होने के बाद सदर अस्पताल में आउटडोर सेवा बंद थी। इसके कारण सर्टिफिकेट मिलने में देरी होने लगी। इसके बाद युवक हंगामा पर उतर गए। सुरक्षाकर्मियों ने युवाओं को समझाकर शांत कराया।

सेना भर्ती के अभ्यर्थियाें ने ट्रेनाें पर जमाया कब्जा : चक्कर मैदान में चल रही सेेना भर्ती की दौड़ प्रक्रिया में असफल हुए सैकड़ों अभ्यर्थी रविवार की सुबह ही जंक्शन पर घर वापसी के लिए पहुंचने लगे। धीरे-धीरे युवाओं की संख्या उमड़ने लगी। इसके बाद मुजफ्फरपुर से आनंद विहार जाने वाली सप्तक्रांति, वैशाली, मिथिला, मौर्य, बिहार संपर्क क्रांति आदि ट्रेनों में कब्जा जमा लिया। इससे यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। हालांकि जंक्शन पर तैनात जवानाें ने कब्जा जमाए युवाओं को स्लीपर व एसी बोगी से निकाल कर जनरल बाेगी में भेजा। इसके बाद अभ्यर्थी बोगी में कब्जा नहीं जमाए, इसकाे लेकर जीआरपी व आरपीएफ जवान काे प्रत्येक बोगी के पास तैनात किया गया।







Breaking News : बिहार में नहीं थम रहा अपराध, अपराधियों ने BJP नेता अफजल शम्सी को सरेआम मारी गोली.



बिहार में आपराधिक घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. आम जनता के साथ ही अब जनप्रतिनिधि भी बिहार में सुरक्षित नजर नहीं हैं. इसकी तस्वीर एक बार फिर मुंगेर में देखने को मिली है. यहां बिहार बीजेपी के प्रवक्ता अफजल शम्सी (Afzal Shamsi) को अपराधियों ने गोली मार दी है.  गोली लगने से बीजेपी नेता की हालत गंभीर हो गई है और उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया है.

जानकारी के अनुसार, अपराधियों ने बीजेपी ने अफजल शम्सी को इवनिंग कॉलेज के पास गोली मारी है. घटना के बाद इलाके में कोहराम मच गया. जबकि घायल अवस्था में बीजेपी के सदर अस्पताल में इलाज के लिए एडमिट कराया है. वहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें पटना रेफैर कर दिया गया है.

/>
वहीं, अफजल शम्सी को गोली मारने के मामले में एसपी ने कहा कि परिजनों के बयान पर जमालपुर कॉलेज जमालपुर के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही उनसे पूछताछ की जा रही है. इस बाबत एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि मोहम्मद अफजल शम्सी से उनकी कुछ आपसी रंजिश है, जिसकी बातें परिजन बता रहे हैं. जिसको लेकर प्रभारी प्राचार्य को गिरफ्तार कर लिया गया है.

बता दें कि बिहार में अपराधियों घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. राज्य की बिगड़ती कानून-व्यवस्था पर विपक्ष सरकार पर हमलावर है. विपक्ष का आरोप है कि नीतीश कुमार सरकार कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर पूरी तरह से फेल नजर आ रही है. जबकि सत्तापक्ष का कहना है कि पुलिस अपराधियों के खिलाफ सख्ती से काम कर रही है और विपक्ष बिना मतलब इस पर राजनीति कर रहा है.



Breaking News : समस्तीपुर स्टेशन पर संदिग्ध युवक की गिरफ़्तारी के बाद मचा हड़कंप, दिन भर चलता रहा हाई वोल्टेज ड्रामा.





समस्तीपुर, 25 जनवरी '21 | संवाददाता 

गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकवादी हमले की खुफिया जानकारी के बाद से देश की तमाम सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। इसी बीच रेल पुलिस ने समस्तीपुर स्टेशन पर रविवार को एक संदिग्ध युवक को हिरासत में लिया है। उक्त संदिग्ध युवक से आरपीएफ के अलावे जिला पुलिस और विभिन्न एजेंसियों ने घंटों पूछताछ की है। हालांकि इस मामले में आरपीएफ या फिर समस्तीपुर जिला पुलिस कुछ बताने से परहेज कर रही है। इससे संदिग्ध युवक की वस्तुस्थिति के बारे में अब तक कुछ भी स्पष्ट नहीं हो पाया है।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार को देर शाम रेल पुलिस सहित पुलिस की विभिन्न टीम अपने स्तर से संदिग्ध युवक के बारे में खोजबीन कर रही थी। उसके बाद स्टेशन पर उक्त युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया है। चर्चा है कि संदिग्ध युवक चकमेहसी थाना क्षेत्र का रहने वाला है, जो दिल्ली में रहकर आईआरसीटीसी के एप को हाईजैक कर तत्काल टिकट का गोरखधंधा व एप के माध्यम से ई-टिकट का फर्जीवाड़ा करता था। जिसके गांव में आते ही गुप्त सूचना पर आरपीएफ की टीम ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से शनिवार रात उसे दबोचा था। हालांकि अभी तक टिकट के गोरखधंधे की बात की सच्चाई भी सामने नहीं आयी है।

सूत्रों की माने तो संदिग्ध युवक के हिरासत में लेने के बाद पूछ ताछ में राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मामले सामने आयी है। जिसके बाद रेल व जिले के प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया है। इसके बाद आरपीएफ कमांडेंट अंशुमान त्रिपाठी, समस्तीपुर एसपी विकास वर्मन, सदर डीएसपी प्रीतिश कुमार के अलावे रेल पुलिस, आईबी एवं विभिन्न पुलिस इंस्पेक्टरों की टीम दिन भर स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक पर जमे रहे। इस दौरान संदिग्ध युवक से अलग-अलग अधिकारियों द्वारा घंटों पूछताछ की गयी। इसके बावजूद कोई अधिकारी कुछ भी बताने से इंकार किया है।

गणतंत्र दिवस को लेकर अलर्ट हैं सुरक्षा एजेंसियां : पुलिस सूत्रों की माने तो गणतंत्र दिवस के मौके पर आतंकवादी हमले की खुफिया जानकारी के बाद से देश की तमाम सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। इसी बीच संदिग्ध युवक के हिरासत में लेने के बाद विभिन्न एजेंसी अपने स्तर से इसको लेकर जांच करने स्टेशन पहुंच गयी। सूत्रों की माने तो सुरक्षा एजेंसी से मिले इनपुट के बाद एक संदिग्ध को चकमेहसी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया था। जानकारी मिल रही है कि पटना से कल हुई एक संदिग्ध की गिरफ्तारी के बाद चकमेहसी से युवक को गिरफ्तार किया गया था। सूत्रों की माने पुलिस हिरासत में पकड़ा संदिग्ध रेल टिकट का भी हेरा फेरी करता है। अब देखना यह है कि चार-चार एजेंसी की जांच के बाद क्या सच्चाई सामने आ पाती है।






Crime News : समस्तीपुर के विभूतिपुर में सोनू राज हत्याकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश, तीन आरोपी गिरफ़्तार.



समस्तीपुर, 24 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर के विभूतिपुर थाना क्षेत्र के बोरिया डीह गांव की बहुचर्चित घटना सोनू राज हत्याकांड का पर्दाफाश पुलिस ने 10 दिनों के अंदर कर लिया है। घटना का कारण पुरानी आपसी रंजिश बताया गया है। पुलिस ने इस घटना को अंजाम देने वाले पांच युवकों का नाम सार्वजनिक किया है। सोनू राज हत्याकांड का मुख्य सूत्रधार सोनू कुमार राय उर्फ डिगला बताया जाता है, जो उमड़ी जनाक्रोश में पीट-पीटकर मारा गया। 


उक्त जानकारी विभूतिपुर थाना परिसर में प्रेस वार्ता के दौरान रोसड़ा एसडीपीओ सहरियार अख्तर ने कही। उन्होंने बताया कि पुलिस कई अन्य बिदुओं पर भी जांच में जुटी है। इस घटना को लेकर पुलिस ने टीम गठित की थी। एसडीपीओ की मानें तो जन आक्रोश में जख्मी युवक कृष्णा साह उर्फ जर्सी को ग्रामीणों के चंगुल से बचाकर पुलिस ने इलाज कराया था। कृष्णा इस हत्याकांड के खुलासे में पुलिस के लिए सहायक सिद्ध हुआ। कांड में गांव के ही मिथिलेश कुमार राम, कृष्णा साह उर्फ जर्सी और विपिन कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जबकि हत्याकांड में संलिप्त अभिषेक कुमार को गिरफ्तार करने हेतु पुलिस सघन छापेमारी में जुटी है, हालांकि,सोनू राज हत्याकांड के कारणों को जान पुलिस हैरान है। जिसे सार्वजनिक करने से पुलिस परहेज करती नजर आई। 


उन्होंने बताया कि विगत 14 जनवरी की संध्या बोरिया वार्ड 12 निवासी महेश महतो का एकलौता पुत्र सोनू राज लापता हो गया था। इसको लेकर लापता छात्र के पिता महेश महतो ने स्थानीय थाने में एक कांड दर्ज कराई। विगत 18 जनवरी को बूढ़ी गंडक नदी किनारे बोरिया बांध के समीप लापता सोनू राज का शव मिला। इसकी सूचना से आक्रोशित ग्रामीणों ने मामले के मुख्य सूत्रधार सोनू कुमार राय को पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। 


घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने उमड़ी जनाक्रोश की भेंट चढ़ने से पूर्व मिथिलेश कुमार को बचाने में सफलता पाई थी। यह कारगर साबित हुआ। पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए एसडीपीओ ने बताया कि ग्रामीणों के हाथों पीट-पीटकर हत्या कर दिए गए सोनू कुमार राय के स्वजन ने भी स्थानीय थाने में एक प्राथमिकी दर्ज करवाई है। पुलिस विभिन्न बिदुओं पर बारीकी से तफ्तीश में जुटी है। मौके पर थानाध्यक्ष कृष्ण चंद्र भारती, एसआई विशद विश्वास, फैजुल अंसारी, ब्रजेश कुमार, पुलिस पदाधिकारी दिनेश सिंह आदि रहे।

वहीं इस हत्याकांड मामले में एक प्राथमिकी दर्ज हुई है। मृतक की मां सुधा देवी ने स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई है। जिसमें बोरिया पंचायत के सरपंच गणेश प्रसाद सिंह सहित 26 नामजद और 80 अज्ञात लोग शामिल है। 

प्राथमिकी उसने कहा है कि उसके पुत्र को आरोपियों द्वारा अपहरण कर लेने के बाद गांव के ही एक चौक पर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है। गांव के ही सोनू राज का शव बूढ़ी गंडक नदी किनारे मिली थी। इस घटना में उसके निर्दोष पुत्र को आरोपियों ने एक सोची समझी साजिश के तहत दोषी मानते हुए पीट-पीटकर हत्या कर दी है।


Crime News : समस्तीपुर पुलिस ने लूट की राशि और पिस्टल के साथ तीन बदमाश को किया गिरफ्तार.



समस्तीपुर, 24 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर के घटहो ओपी क्षेत्र में पशु कारोबारी से लूट मामले में पुलिस ने घटना के 24 घंटे के अंदर लूट की राशि और पिस्टल के साथ लाइनर सहित तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया। 


दलसिंहसराय थाना पर प्रेस को जानकारी देते हुए डीएसपी दिनेश कुमार पांडेय ने बताया कि घटहो ओपी अंतर्गत मुसहरी चौर से 22 जनवरी को पशु कारोबारी (खस्सी बकरी खरीद करने वाले) पटना जिले के बाढ़ निवासी मो.सरफराज उर्फ बबलू से योजना बनाकर उसके ही एक दोस्त लाइनर मो.ताज ने अपने अन्य सहयोगी मो. राजा व शुभम के साथ मिलकर हथियार के बल पर मारपीट करते हुए 20 हजार रुपये छीन लिया था। इस घटना के 12 घंटे के अंदर ही पुलिस ने सभी बदमाशों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है। 


दलसिंहसराय थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार मिश्र के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। जिसमें घटहो ओपी प्रभारी प्रेम प्रकाश आर्या, पुअनि शिव शम्भू प्रसाद सहित सशस्त्र बलों के द्वारा कांड की गहनता से छानबीन करते हुए तीन अपराधी को उसके घर से हथियार, बाइक व लूट के 17 हजार रुपये के साथ गिरफ्तार किया गया है। 


घटना में पीड़ित मो.सरफराज उर्फ बबलू के ही दोस्त लाइनर घटहो ओपी के भैरोपट्टी निवासी अब्दुल गफूर के पुत्र मो.ताज के पास से 11 हजार रुपये सहित एक बाइक उसके साथी दलसिंहसराय थाना क्षेत्र के सलखन्नी निवासी धनंजय पोद्दार के पुत्र शुभम कुमार के पास से पिस्टर एंव गोली व 3 हजार नकद एवं रहिमपुर प्यारे के मो. अद्दुद के पुत्र मो. राजा के पास से तीन हजार नकद बरामद किया गया है। वही घटना में एक अन्य अपराधी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। सभी को आवश्यक करवाई करते हुए न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है।




Samastipur News : समस्तीपुर में ट्रैक्टर हादसे में जख़्मी ट्रैक्टर के चालक की मौत, तीन अन्य की हालत गंभीर.



समस्तीपुर, 24 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर में शनिवार को हुए ट्रैक्टर हादसा में जख़्मी ट्रैक्टर के चालक की मौत इलाज के दौरान हो गयी , चालक सहित वहीं तीन अन्य की हालत गंभीर बानी हुई है। मिली जानकारी के मृतक मजदूर बाबूलाल राय ( 30 वर्ष ) सरायरंजन थाना क्षेत्र के हरपुर बरहेता का रहने वाला था। मृतक की पहचान सरायरंजन के हरपुर बरहेता गांव के बाबूलाल राय के 30 वर्षीय पुत्र कृष्ण कुमार के रूप में हुई है।


बता दें कि रेलवे ओवर ब्रिज पर शनिवार की रात्रि में एक अनियंत्रित ट्रैक्टर दुर्घटना का शिकार हो गयी थी। जिसमे चालक समेत चार लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। जिसे स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया था। घायलों में मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के मिथिलेश राय ( विक्रमपुर बांदे) मन्टुन राय ( रहीमपुर रुदौली } विक्की राय ( लागुनियाँ रघु कंठ ) शामिल हैं। जिनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। 


जानकारी के अनुसार ओवर ब्रिज पर मगरदही घाट की ओर जा रहा एक ट्रैक्टर ओवर टेक करने के चक्कर में अनियंत्रित हो गया और वह सीधे ही पुल की रेलिंग तोड़ते हुए हवा में लटक गया। गनीमत यह रही कि जब ट्रैक्टर अनियंत्रित हुआ तो वहाँ पर लोगों की आवाजाही काम थी। पुल पर ट्रैक्टर लटकने की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई और लोग ट्रैक्टर को देखने के लिए पुल पर पहुंचे गए। इसके चलते ओवर ब्रिज के नीचे और ब्रिज पर जाम की स्थिति बन गई थी। सूचना मिलने पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रैक्टर को उतारने की कार्रवाई की। 


बताया गया है कि पुल पर जिस जगह ये ट्रैक्टर लटका था, वहां पर घनी आबादी है। यदि ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ नीचे आ जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। रेलिंग के गिरने से वहां उपस्थित लोगों में अफरा-तफरी मच गई। 


ट्रॉली के रेलिंग में फंसने से टल गया हादसा : ट्रैक्टर अगर ट्रॉली सहित पुल के नीचे आ जाता तो निश्चित ही वहां पर बड़ा हादसा हो सकता था, क्योंकि जिस जगह पर ट्रैक्टर लटका हुआ था वहां पर लोगों की काफी भीड़ रहती है। उस जगह पर कोयला का दुकान है, जहाँ जलावन खरीदने के लिए लोग आते हैं। लेकिन संयोग से वह उस समय बंद था। दअरसल ट्रैक्टर के पीछे ट्रॉली भी लगी हुई थी। जिस समय ट्रैक्टर अनियंत्रित और रेलिंग तोड़कर हवा में लटका तो पीछे लगी ट्रॉली ओवर ब्रिज के रेलिंग से फंस गई और ट्रैक्टर नीचे नहीं गिर सका।




Samastipur News : समस्तीपुर में ओवर ब्रिज का रैलिंग तोड़ लटका ट्रैक्टर, मची अफरा-तफरी.




समस्तीपुर, 23 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर में एक अनियंत्रित ट्रैक्टर रेलवे ओवर ब्रिज की रेलिंग तोड़कर हवा में लटक गया,  वहीं पुल के नीचे गिरने से  चालक घायल हो गया। जिसे स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया है। पुल पर जिस जगह ये ट्रैक्टर लटका था, वहां पर घनी आबादी है। यदि ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ नीचे आ जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था। रेलिंग के गिरने से वहां उपस्थित लोगों में अफरा-तफरी मच गई। ट्रैक्टर के पुल पर लटकने की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रैक्टर को वहां से हटाने में जुट गयी है।


जानकारी के अनुसार ओवर ब्रिज पर मगरदही घाट की ओर जा रहा एक ट्रैक्टर ओवर टेक करने के चक्कर में अनियंत्रित हो गया और वह सीधे ही पुल की रेलिंग तोड़ते हुए हवा में लटक गया। गनीमत यह रही कि जब ट्रैक्टर अनियंत्रित हुआ तो वहाँ पर लोगों की आवाजाही काम थी। पुल पर ट्रैक्टर लटकने की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई और लोग ट्रैक्टर को देखने के लिए पुल पर पहुंचे गए। इसके चलते ओवर ब्रिज के नीचे और ब्रिज पर जाम की स्थिति बन गई। सूचना मिलने पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रैक्टर को उतारने की कार्रवाई में जुट गयी है।


ट्रॉली के रेलिंग में फंसने से टल गया हादसा : ट्रैक्टर अगर ट्रॉली सहित पुल के नीचे आ जाता तो निश्चित ही वहां पर बड़ा हादसा हो सकता था, क्योंकि जिस जगह पर ट्रैक्टर लटका हुआ था वहां पर लोगों की काफी भीड़ रहती है। उस जगह पर कोयला का दुकान है, जहाँ जलावन खरीदने के लिए लोग आते हैं। लेकिन संयोग से वह उस समय बंद था। दअरसल ट्रैक्टर के पीछे ट्रॉली भी लगी हुई थी। जिस समय ट्रैक्टर अनियंत्रित और रेलिंग तोड़कर हवा में लटका तो पीछे लगी ट्रॉली ओवर ब्रिज के रेलिंग से फंस गई और ट्रैक्टर नीचे नहीं गिर सका।



विद्युत तार टूटने से मची अफरातफरी : ट्रैक्टर के रेलिंग तोड़कर हवा में लटकने के क्रम में विद्युत तार में झटका लगने से टूटा कर नीचे गिर गया। आसपास के लोगों ने तत्काल बिजली विभाग को सूचना दी। सूचना मिलते ही विद्युत बाधित कर दिया गया। इससे टूटी तार से स्पार्क होने से आसपास के लोग काफी भयभित हो उठे।


घटना के बाद पुल के नीचे लगा जमावड़ा : घटना की सूचना आग की तरह पूरे शहर में फैल गई। धीरे-धीरे दर्जनों की संख्या में लोग का जमावड़ा घटना स्थल पर लग गया। सभी अपने मोबाइल से हवा में लटके ट्रैक्टर की तस्वीर कैद कर रहे थे।

समस्तीपुर में जमीनी विवाद में जमकर खूनी संघर्ष हुआ। संघर्ष में दोनों पक्षों के 6 लोग घायल हो गए, जिनमें दो की हालत गंभीर है.




समस्तीपुर टुडे | 23 जनवरी '21

समस्तीपुर। मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के ग्राम विक्रमपुर बांदे में जमीनी विवाद में जमकर खूनी संघर्ष हुआ। संघर्ष में दोनों पक्षों के आधा दर्ज़न लोग घायल हो गए, जिनमें दो की हालत गंभीर है। वहीं घायलों को आनन-फानन में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज जारी है। 


मिली जानकारी के अनुसार मामला विक्रमपुर बांदे पंचायत के वार्ड संख्या -10 की बतायी जा रही है, जहां शुक्रवार की देर रात्रि में जमीन के लिए दो पक्षों में जमकर मारपीट हुआ। जिसमे में दोनों पक्षों की तरफ से जमकर लाठी डंडे और फरसा चले। इस खुनी संघर्ष में दोनों पक्षों के दो महिला सहित 6 लोग घायल हो गए हैं। जिनमें दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों में विनोद कुमार, केदार राय, दिलीप कुमार ,नरेश राय ,सुनीता देवी ,मंजू देवी, और अरुण कुमार शामिल है। घायलों का उपचार सदर अस्पताल में जारी है। 





परिजनों ने बताया कि विवादित जमीन पर जबरन घर बनाने को लेकर मुफस्सिल थाने में आवेदन दिया गया था। जिसके पुलिस ने उक्त भूमि पर घर बनाने पर रोक लगा दिया था। इसी आक्रोश में दूसरे पक्ष ने बीती रात घर में घुसकर में सोए अवस्था में धारदार हथियार से वारकर सभी को जख्मी कर दिया। 


मुफ्फसिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य ने बताया कि दो पक्षों में मारपीट की सुचना मिली है। घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की जांच की जा रही है। जांच करने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।


Read This

Job in Bihar 2021: बिहार सरकार के कृषि विभाग में 1175 पदों पर बम्पर बहाली, जल्द होगा निर्देश जारी.




समस्तीपुर टुडे | 22 जनवरी '21

बिहार में नौकरी का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए खुशखबरी है. सरकार अब सभी विभागों में रिक्त पदों को भरने की तैयारी कर रही है. वहीं कृषि सेक्टर में नौकरी (sarkari naukri 2021) की चाह रखने वाले युवाओं के लिए जल्द ही वैकेंसी (Agriculture vacancy in bihar) आने वाली है. सरकार पौधा संरक्षण संभाग में पौने बारह सौ सीटों पर बहाली करने की तैयारी में है.


बिहार सरकार कृषि विभाग के पौधा संरक्षण विभाग में जल्द ही 1175 पदों पर (Bihar job vacancy 2021) नियुक्ति करने वाली है. सूबे के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने विभाग की समीक्षा के दौरान खाली पदों को जल्द भरने का निर्देश दिया है.


पौधा संरक्षण विभाग में 1509 पद स्वीकृत किए गए हैं. जिसमें अभी केवल 334 पदों पर ही कर्मी कार्यरत हैं. विभाग में अभी भी 1175 पद रिक्त हैं. जिसे जल्द ही बहाली के जरिए भरे जाएंगे.


बता दें कि कोरोनाकाल में नौकरी देने में लड़खड़ाई सरकार नये साल में अब इसे गंभीरता से ले रही है. बिहार कर्मचारी चयन आयोग (बीएसएससी) ने सभी जिलों को इस मामले में पत्र लिखा है. आयोग के द्वारा सभी विभागों से संबंधित रिक्तियां मांगी गई हैं.


गौरतलब है कि बिहार में अलग अलग विभागों में अभी नियुक्ति की प्रकिया जारी भी है. बिहार लोक सेवा आयोग, बीएसएससी ने भी हजारों पदों पर नियुक्ति शुरू कर दी है. वहीं हाल ही में नीतीश सरकार ने 3800 से ज्यादा राजस्व कर्मियों के बहाली को भी हरी झंडी दे दी है.



समस्तीपुर में राशन कार्ड के रद्द आवेदनों की जांच पूरी,  83424 लोगों को मिलेगा नया राशन कार्ड.




समस्तीपुर टुडे | 30 अप्रैल '20

समस्तीपुरकोरोना वायरस कोविड19 महामारी के बाद राशन कार्ड के रद्द आवेदनों की फिर से जांच के बाद 83424 लोगों का राशन कार्ड बनेगा। इन लोगों को जांच में राशन कार्ड के लिये उपयुक्त माना गया है। जांच पूरी होने के बाद राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया तेज कर दी गयी है। फिलहाल इन लाभुकों के आवेदनों को आरटीपीएस पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है। इस दौरान लाभुकों के आधार संख्या, मोबाइल नंबर व बैंक पासबुक की संख्या को अपलोड किया जा रहा है। इस संबंध में पूछे जाने पर डीएसओ ने बताया कि सरकार एवं विभाग के बाद पूर्व में राशन कार्ड के रद्द किये आवेदनों की जांच की गयी। जांच के बाद 83424 लोगों का योग्य पाया गया। इनके आधार, मोबाइल नंबर एवं खाता संख्या को आरटीपीएस पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है।

एक-एक हजार रुपये मिलेगा : आरटीपीएस पोर्टल पर स्वीकृत आवेदनों के लाभुकों के डिटेल को अपलोड करने के साथ ही बैंक खाता में एक-एक हजार रुपये भेज दिया जायेगा। डीएसओ ने बताया कि आधार संख्या, मोबाइल नंबर एवं खाता संख्या को पोर्टल पर युद्धस्तर पर अपलोड करने का कार्य किया जा रहा है। लाभुकों का डाटा अपलोड होने के साथ ही पहले सभी के खाते में एक-एक हजार रुपये डाल दिया जायेगा।

आवंटन के बाद मिलेगा राशन : राशन कार्ड के लिये स्वीकृत आवेदनों को पहले तो नया राशन कार्ड बनाया जायेगा। फिर राशन कार्ड में अंकित लाभुकों की संख्या, आधार संख्या आदि को पॉश मशीन में अपलोड किया जायेगा। इसके बाद नये लाभुकों को राशन वितरण शुरू किया जायेगा। डीएसओ ने बताया कि पॉश मशीन में अपलोड होने के बाद आवंटन भेजा जायेगा। आवंटन आने के बाद लाभुकों को मई महीने से राशन भी दिया जायेगा।


1.90 लाख आवेदन हुआ था रद्द : राशन कार्ड के लिये पूर्व में दिये गये आवेदनों में से एक लाख 90 हजार आवेदकों का आवेदन विभिन्न कारणों से रद्द किया गया था। जिसके बाद लाभुक काफी परेशान थे। कोरोना महामारी के बाद सरकार की तंद्रा भंग हुई और विभाग को फिर से रद्द आवेदनों की जांच का आदेश दिया। इसके बाद सभी प्रखंडों में ठंडे बस्ते में पड़े आवेदनों की जांच शुरू हुई। जिसमें 83424 लोगों के आवेदनों को सही ठहराते हुये जांच टीम ने हरी झंडी दे दी। कोरोना महामारी के कारण इतने लाभुकों को लाभ मिलना तय हो गया है। जबकि अन्य लाभुकों का सर्वे जीविका के द्वारा किया जा रहा है।


समस्तीपुर से जुडी ताज़ा ख़बरों की जानकारी के लिए हमारे व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़े साथ ही हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें और  पर फॉलो करें!





पुराने पोस्ट
नई पोस्ट

टिप्पणी पोस्ट करें