समस्तीपुर में छठी से आठवीं के लिए आठ फ़रवरी से खुलेंगे मध्य विधालय




05 Feb  '21 | Samastipur Today



समस्तीपुर में छठी से आठवीं  के लिए आठ फ़रवरी से खुलेंगे मध्य विधालय 

DEMO PIC




समस्तीपुर । जिले के मिडिल स्कूलों में अब आगामी आठ फरवरी से घंटी बजेगी। कक्षा छह से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं का अब स्कूलों में जल्द पठन-पाठन शुरू होगा। शिक्षा विभाग ने कोविड-19 गाइडलाइन के तहत स्कूल संचालन करने की घोषणा कर दी है। शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने शुक्रवार को जिलाधिकारी और जिला शिक्षा पदधिकारी को पत्र जारी कर दिया। नामांकन के 50 प्रतिशत बच्चों को एक दिन बुलाया जाएगा। यानी रोटेशन में बच्चों को स्कूल आना है। पर, कक्षा एक से पांचवीं तक के बच्चों को स्कूल जाने के लिए अभी इंतजार करना होगा। इससे पहले गत चार जनवरी से कक्षा नौवीं से बारहवीं तक के छात्र-छात्राओं का पठन-पाठन सुचारू रूप से चल रहा है।


कोरोना संक्रमण में लॉकडाउन के कारण गत साल मार्च से ही स्कूल बंद हो गए थे। अब धीरे-धीरे स्कूलों व कोचिग संस्थानों में रौनक लौटने लगी है। प्रारंभिक स्कूलों में कक्षा दस महीने बाद शुरू होगी। हालांकि, एक महीने पहले ही माध्यमिक, प्लस टू स्कूल, कॉलेज व कोचिग खोल दिए गए हैं। कक्षा छठी से आठवीं तक के बच्चों के स्कूल आने की व्यवस्था से निजी स्कूलों के संचालकों को अब राहत होगी। निजी स्कूल स्तर पर इसको लेकर व्यवस्था की जा रही है। स्कूलों में कक्षा शुरू होने से छात्र-छात्राओं को भी उत्सुकता है। शारीरिक दूरी का होगा पालन


स्कूलों में कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करना है। कक्षा में फिजिकल डिस्टेंसिग के साथ ही छात्र-छात्राओं को मास्क का प्रयोग अनिवार्य किया गया है। स्कूलों को सैनिटाइज्ड भी कराने को कहा गया है। वहीं अन्य सुरक्षा एहतियात को लेकर भी तैयारी की गई है। सरकारी स्कूलों के बच्चों को विभाग द्वारा तैयार मास्क उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाएगी। अभिभावकों से भी सहमति ली जाएगी। 

छठी से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं को मिलेगा मास्क


जिले के माध्यमिक व प्लस टू स्तरीय सरकारी विद्यालयों के छात्र-छात्राओं की तरह ही अब कक्षा छह से आठवीं तक के भी बच्चों को स्कूल में मास्क दिया जाएगा। सभी सरकारी विद्यालयों में विद्यार्थियों को दो-दो मास्क का वितरण जीविका के माध्यम से कराने को कहा गया है। जीविका द्वारा पूर्व में मास्क उपलब्ध कराया गया था। 

प्राइमरी स्कूलों के छात्र-छात्राओं को अब भी इंतजार


जिले के प्राइमरी स्कूलों के छात्र-छात्राओं को स्कूल जाने का अब भी इंतजार करना पड़ेगा। कोरोना के कारण गत साल मार्च से ही स्कूलों पठन-पाठन बंद है। हालांकि, बीते कई महीनों से स्कूल शिक्षकों के लिए खुल हैं। पर, कक्षा पहली से पांचवीं तक के छात्र-छात्राओं के लिए अब भी स्कूल में पढ़ाई शुरू होने की आस है। 

घर से लाना होगा पौष्टिक खाना


विद्यार्थियों को घर से ही पका-पकाया पौष्टिक खाना लाने को कहा गया है। साथ ही भोजन साझा नहीं करने का भी निर्देश दिया गया है। विद्यालय के अंदर बाहरी वेंडर की ओर से खाद्य सामग्री की बिक्री पर रोक लगाने का निर्देश दिया गया है। विद्यार्थियों को परस्पर एक-दूसरे का मास्क अदला-बदली नहीं करने का भी निर्देश दिया गया है।




















Samastipur News :  उजियारपुर में दुष्कर्म के आरोपी की गिरफ्तारी के लिए माले ने निकाला प्रतिरोध मार्च.







समस्तीपुर, 1 फरवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर जिले के उजियारपुर प्रखंड क्षेत्र में भाकपा माले ने दुष्कर्म कांड के आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग तथा लचर पुलिस व्यवस्था के खिलाफ सोमवार को प्रतिरोध मार्च निकाला गया। संगठन के शाखा सचिव शिवनारायण चौरसिया के नेतृत्व में गाढा टोल से मुरियारो ढाला तक निकाले गए प्रतिरोध मार्च में पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। 

प्रतिरोध मार्च के माध्यम से आरोपितों को अविलंब गिरफ्तार करने, पीड़िता को 5 लाख रुपये मुआवजा देने तथा परिजनों को सुरक्षा प्रदान करने की मांग की गई। माले के प्रखंड सचिव महावीर पोद्दार ने कहा कि 28 जनवरी की शाम शौच के लिए निकली एक मंदबुद्धि महिला के साथ अनैतिक कार्य करने के बाद पीड़िता के परिजनों के साथ मारपीट की गई। महिला थाना में दर्ज प्राथमिकी के मुख्य आरोपित अब भी पुलिस पकड़ से बाहर है। साथ ही मामले को रफादफा करने के लिए पीड़िता के परिजनों पर पंचायती कर मामला खत्म करने का दबाव बना रहा है। 

मौके पर चन्देश्वर राय, कुंदन कुमार, कपिलेश्वर पासवान, निलेश कुमार सिंह, शशिभूषण सिंह, जीवछ सहनी, लक्ष्मण सहनी, उर्मिला देवी, अकली देवी, कन्हैया पांडेय, रामनाथ महतो, हरेकृष्ण राय, तिलक सहनी, रामा सहनी, अबधेश दास, अभिषेक कुमार सहित दर्जनों कार्यकर्ता व ग्रामीण का कार्यक्रम में शामिल हुए।




Breaking News :  बिहार के अररिया में लूट के दौरान चावल कारोबारी की हत्या, 3 लाख रूपए छीन कर मारी गोली.








बिहार के अररिया में बेखौफ अपराधियों ने लूट के दौरान हत्या (Murder) की घटना को अंजाम दिया है. जिले के बथनाहा थाना के सोनापुर में फुलकाहा-बथनाहा सड़क मार्ग पर बालुगढ़ के समीप रविवार की देर रात आधा दर्जन हथियारबंद अपराधियों ने चावल व्यवसायी को निशाना बनाते हुए गोली मारकर हत्या कर दी. मृतक का नाम अमन कुमार गुप्ता है. गोलीबारी की इस घटना के दौरान कारोबारी के सहयोगी राहुल को भी गोली लगी है. राहुल को गंभीर अवस्था में पूर्णिया रेफर किया गया है.

गोलीबारी की घटना का शिकार हुए दोनों युवक नरपतगंज से 3 लाख रुपये वसूली कर लौट रहे थे. इसी दौरान सोनापुर में घात लगाए अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर वारदात को अंजाम दे दिया और रूपए लूट कर चलते बने. जानकारी के मुताबिक तीन पल्सर बाइक से छह की संख्यां में अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया. मृतक अमन को दो गोली लगी जबकि घायल राहुल को पेट में एक गोली लगी जिसका इलाज पूर्णिया मैक्स अस्पताल में चल रहा है. इधर जब फारबिसगंज डीएसपी श्रीकांत शर्मा से पत्रकारों ने सवाल पूछा तो डीएसपी साहब कैमरे से भागते नजर आए.

बता दें कि फारबिसगंज में अपराधी बेखौफ हैं और पुलिस की कार्यशैली पर लोग सवाल उठा रहे हैं. बीते 28 दिसम्बर को भी अपराधियों ने दवा व्यवसायी पवन केडिया की गोली मारकर हत्या कर दी थी जिसका अब तक खुलासा नहीं हो सका है. जिले में लगातार बढ़ रही अपराध की घटनाओं से लोग खासे आक्रोशित और दहशत में भी हैं.




Breaking News :  समस्तीपुर में एक महिला से दिनदहाड़े हुई 4 लाख की लूट में कटिहार के कोढ़ा गिरोह का हाथ.




  समस्तीपुर, 31 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर शहर के नगर थाना के ठीक सामने दिनदहाड़े हुई 4 लाख की लूट मामले का खुलासा करते हुए  नगर थाना अध्यक्ष अरुण राय ने बताया कि पकड़ा गया अपराधी कटिहार जिले के कोढ़ा का रहनेवाला धीरज कुमार है। इसके पास से लूट की 4 लाख में से ही 27 हजार रुपए, मास्टर की, फर्जी सिम लगा मोबाइल और पटना पत्रकार नगर थाना से चोरी हुई एक बाइक भी बरामद किया गया है।   

उन्होंने बताया कि लूटपाट में शामिल यह अपराधी बिहार के कटिहार जिले के चर्चित कोढ़ा गिरोह के सदस्य है,  और पूरे बिहार में सैंकड़ो की संख्या में फैले हुए है। ये लोग  एक जगह आपराधिक घटना को अंजाम देकर दूसरी जगह अपना शिकार की तलाश में निकल जाते है। इसके सदस्य अंजान होते है जिसकी वजह से सीसीटीवी में इनकी तस्वीर कैद होने के बावजूद पुलिस के लिए इनकी पहचान कर पाना मुश्किल हो जाता है।

थाना अध्यक्ष ने कहा कि गनीमत यह रही कि शनिवार को हुई घटना में पीड़ित शख्स की पत्नी द्वारा शोर मचाए जाने पर महिला पुलिस की जवान ने एक लुटेरे को मौके पर ही दबोच लिया , जिस वजह से इस गिरोह का खुलासा हुआ। उन्होंने  बताया कि इस अपराधी पूछताछ में यह खुलासा हुआ है कि बैंक से ही इस गिरोह के 4 सदस्य दम्पति की रेकी कर रहा था और नगर थाना के सामने उसने मौका देखकर रुपये से भरा बैग झपट लिया और भागने लगा।

इनके साथ दो बाइक से चार अपराधी थे। एक बाइक पर सवार दो अपराधी और दूसरे बाइक पर पीछे बैठा अपराधी भाग निकला। लेकिन दूसरा बाइक चला रहा धीरज मौके पर पकड़ा गया।  

पीड़ित महिला ने भी पकड़े गए अपराधी की पहचान की है और यह बताया है कि दूसरे अपराधी के साथ यह  बैंक में भी घूम रहा था और इनके पीछे लगा हुआ था।पुलिस पकड़े गए अपराधी के बयान के आधार पर बाकी अपराधियो की गिरफ्तारी के लिए भी छापेमारी कर रही है साथ ही दूसरे जिलों में हुई अन्य लूट की घटना के खुलासे की भी कोशिश की जा रही है।







समस्तीपुर में महिला से दुष्कर्म, विरोध करने पर बदमाशों ने परिजनों को पीटा, पीड़िता के पति समेत तीन जख्मी.






समस्तीपुर जिले के अंगारघाट थाना क्षेत्र के एक गांव में एक महिला से दुष्कर्म करने का विरोध करने पर आरोपियों ने उसके परिवार के लोगों की पिटाई भी कर दी। घटना की सूचना मिलने के बाद पहुंची अंगारघाट थाने की पुलिस ने जख्मी लोगों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया है। इसके बाद पीड़ित महिला को बयान के लिए महिला थाना भेज दिया। 


मिली जानकारी के अनुसार  दुष्कर्म की शिकार हुई महिला के पति ने बताया कि उसकी पत्नी गुरुवार शाम शौच के लिए खेत की ओर जा रही थी। उसी दौरान गांव के ही एक व्यक्ति ने उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। उसी समय वे काम से लौट रहे थे। पत्नी के साथ हुई घटना को देख वह शोर मचाया। इस पर दुष्कर्म करने वाले आरोपी व वहां मौजूद उसके दो अन्य समर्थकों ने उसे पीटना शुरू कर दिया। जब उन्हें बचाने के लिए उनके घर के लोग आये तो आरोपियों ने उनकी भी पिटाई कर जख्मी कर दिया। जिससे वे भी जख्मी हो गए। आरोपियों की पिटाई से महिला के पति, देवर और भतीजा जख्मी है। जिनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।


एक आरोपित गिरफ्तार : पुलिस सूत्रों के अनुसार पीड़िता के आवेदन पर महिला थाना समस्तीपुर में एफआइआर दर्ज की गई है। जिसमें पीड़ित महिला द्वारा दिए आवेदन में अंगारघाट थाना क्षेत्र के डढ़िया (ग्रहा) निवासी उमेश महतो व उसका पुत्र चंदन कुमार महतो तथा मनोज महतो एवं उसका पुत्र सुजीत कुमार के ऊपर आरोप लगाया गया है। जबकि घटना का विरोध करने पर स्वजनों के ऊपर हमला करने का भी आरोप है।

इस मामले में अंगारघाट पुलिस ने एक आरोपित को पकड़ कर महिला थाना को सौंप दिया है। अंगारघाट थानाध्यक्ष आफताब आलम ने बताया कि आरोपित मनोज महतो का पुत्र सुजीत कुमार है। 


समस्तीपुर में धारदार हथियार से गला रेतकर युवक की हत्या, अपराधियों की तलाश में जुटी पुलिस.





समस्तीपुर जिले के सिंघिया थाना क्षेत्र के गेरुआ पंचायत अंतर्गत लगमा गांव में मंगलवार की रात अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार से गला रेतकर एक युवक की हत्या कर दी। वारदात को देने के बाद अपराधी फरार हो गए। घटना के दौरान बगल में सो रहे मृतक के पिता ने ग्रामीणों और पुलिस को इसकी जानकारी दी। 



हत्यारों के जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग : घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों नेतलवा घाट के समीप  रोसड़ा - सिंधिया मुख्य सड़क को जाम कर दिया है, ग्रामीणों ने पुलिस से जल्द से जल्द अपराधियों के गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। साथ ही उचित मुआवजा एवं कानूनी कार्रवाई के लिए ग्रामीणों ने एसपी एवं डीएसपी को घटनास्थल पर बुलाने की मांग की। फिलहाल स्थानीय थाना और प्रशासन के लोग ग्रामीणों को समझा कर शांत कराने में लगा  है। 



जांच पड़ताल में जुटे थाना प्रभारी : मृतक की पहचान लगमा गांव निवासी रामानंद सिंह के पुत्र चंदन कुमार के रूप में हुई है। वारदात की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे थाना अध्यक्ष  ने बताया कि मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रमोद अपने घर में सोया था। थोड़ी दूर पर उसके पिता रामानंद सिंह भी सो रहे थे। देर रात अज्ञात अपराधियों ने चंदन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। साथ ही अपराधियों की तलाश में जुट गई है। फिलहाल, हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है।




Samastipur News : समस्तीपुर में एक युवक की पीट - पीटकर हत्या, पुरानी रंजिश बनी वारदात की वजह.





समस्तीपुर में एक युवक की पीट - पीट कर हत्या कर दी गयी है। मामला जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बेझाडीह गांव की है, जहाँ मंगलवार की देर रात जागेश्वर राय के पुत्र रंजन कुमार राय ( 30 वर्ष ) की अपराधियों ने पीट पीट कर हत्या कर दी, वहीं उसके पिता और भाई गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। इससे पहले बदमाशों ने दहशत फैलाने के उद्देश्य से फायरिंग भी किया। घटना को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी फरार हो गए। घटना का मुख्य कारण गोतिया परिवार से जमीन को लेकर पुरानी रंजिश बताई जा रही है।

परिजनों ने पड़ोसी पर हत्या का आरोप लगाते हुए बताया कि कई सालों से उनके पड़ोसी के साथ जमीन को लेकर पुरानी रंजिश चल रहा था। बीती रात पड़ोसी ने अपने समर्थकों के साथ उनके के घर पर धावा बोल दिया और लाठी डंडे और हथियार के साथ पूरे घर वाले की बेरहमी से पिटाई कर दी।  जिसमे उनके बेटे की मौत घटना स्थल पर ही हो गयी।  वही दो लोग गभीर रूप से जख्मी हो गए जिनका इलाज समस्तीपुर सदर अस्पताल में चल रहा है। 

घटना की सुचना पर मुफस्सिल थाना की पुलिस मौके पर पहुँच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया और मामले की छानबीन में जुट गई है। बताया गया है कि परिजनों के बयान पर पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।



हैवानियत : बिहार के भोजपुर में नाबालिग से 4 युवकों ने किया गैंगरेप, परिवार को बनाया बंधक.






बिहार के भोजपुर जिले में घर में अकेली नाबालिग लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया है। किशोरी के परिजन अपने रिश्तेदार के घर गए थे। घटना चौरी थाना क्षेत्र की है। छोटी बहन के साथ किशोरी को घर में अकेली देखकर रात में गांव के ही चार लड़के उसके घर में घुस गए। चारों लड़के ने बारी-बारी से किशोरी के साथ दुष्कर्म किया।

घटना की सूचना मिलने पर घर लौटे माता-पिता जब शिकायत करने आरोपित लड़कों के घर गए तो आरोपितों ने उन्हें तीन दिनों तक अपने घर में बंधक बनाकर रखा और इस दौरान पीड़ितों को पैसे का लालच देकर शांत रहने की धमकी दी गई। पीड़ितों ने बताया कि आरोपितों ने सादे कागज पर पंचनामा तैयार किया जिसमें आरोपित ने अपनी गलती स्वीकार करने की बात लिखी है। 

पीड़ितों ने बताया कि आरोपितों के चंगुल से छुटने के बाद जब वे बेटी को लेकर थाने पहुंचे तो पुलिस ने केस दर्ज करने  इनकार कर दिया। सोमवार को पीड़ित परिवार ने भोजपुर एसपी के पास पहुंचकर चार लड़कों के खिलाफ दुष्कर्म की शिकायत दी है। मामले में एसपी हरकिशोर राय ने केस दर्ज कर जांच के आदेश जारी किया है। 


अंधविश्वास में प्रिंसिपल दंपति ने बेरहमी से की दो बेटियों की हत्या, कहा - कलयुग खत्म होते ही हो जाएंगी जिंदा.





आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के चित्तूर में चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक प्रिंसिपल दंपति ने अंधविश्वास के चक्कर में अपनी ही बेटियों को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस का कहना है कि आरोपी मां ने अपनी दोनों बेटियों पर डंबल से हमला कर उनकी जान ले ली. आरोपियों की पहचान पद्मजा और पुरुषोत्तम नायडू के रूप में हुई. मृतकों की पहचान 27 साल की अलेख्या और 22 साल की साई दिव्या के रूप में की गई है.


पढ़े लिखे होने के बावजूद अंधविश्वास के चक्कर में पड़े : मामला आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के चित्तूर जिले के मदनापल्ले कस्बे का है. पड़ोस में रहने वाले लोगों का कहना है कि इतने पढ़े-लिखे होने के बावजूद प्रिसिंपल दंपति अंधविश्वास के चक्कर में पड़ गए. पद्मजा IIT गोल्ड मेडलिस्ट हैं और मदनपल्ली इलाके में आईआईटी कोचिंग सेंटर चला रही हैं. जबकि पुरुषोत्तम नायडू सरकारी कॉलेज के प्रिंसिपल हैं.


'सतयुग आएगा तो जी उठेंगी' : पुलिस (Police) ने बताया कि 'जब आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, तब इस जघन्य अपराध के लिए उनके चेहरे पर बिल्कुल भी पछतावा नहीं था. जब उनसे हत्या का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया कि कलयुग खत्म हो रहा है और सोमवार को सतयुग शुरू हो रहा है तो उनकी दोनों बेटियां सूरज उगने के साथ ही जीवित हो उठेंगीं.'



पुलिस इस एंगल की भी कर रही जांच : पुलिस ने आरोपी दंपति को हिरासत में लेकर मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इसके साथ ही पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस मामले में किसी तीसरे पक्ष की संलिप्तता तो नहीं है.







Samastipur News : समस्तीपुर में अवैध लॉटरी के धंधेबाजों पर पुलिस ने की कार्रवाई, दो को किया गिरफ्तार.





समस्तीपुर, 23 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर में चोरी छिपे चल रहे अवैध लॉटरी के कारोबार के खिलाफ पुलिस ने सख्त कार्रवाई की है। जानकारी के अनुसार नगर थाना की पुलिस ने शहर में छापेमारी कर दो धंधेबाजों को गिरफ्तार किया और मौके से पुलिस ने नगद समेत मोबाइल व लॉटरी से संबंधित कागजात बरामद किए गए हैं। 


थाना अध्यक्ष अरुण राय ने बताया कि गुप्त मिली थी कि शहर में कुछ लोग अवैध लॉटरी का धंधा कर रहे हैं। इस सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने शहर के स्टेशन रोड के निकट संभावित ठिकानों पर छापेमारी की। इस क्रम में अवैध लॉटरी के धंधे से जुड़े दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने उसके पास से मोबाइल कॉपी और 1460 रुपए नगद बरामद किए हैं। 


उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान बहादुरपुर वार्ड संख्या - 26 निवासी राजेंद्र चौधरी के पुत्र कुंदन कुमार और काशीपुर मोहल्ला के गिरिधर प्रसाद के पुत्र ज्योति कुमार सिन्हा के रूप में हुई है। 


थाना अध्यक्ष ने बताया कि गिरफ़्तार दोनों आरोपी शहर में चोरी-छिपे लॉटरी का धंधा कर लोगों से रुपए वसूलने का काम करते थे। पूछताछ में दोनों अभियुक्तों ने अपनी संलिप्पता स्वीकार की है। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपितों के विरुद्ध नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। शुक्रवार को दोनों आरोपियों को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि अवैध लॉटरी के ठिकानों पर लगातार अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है। 


बता दें कि बिहार में लॉटरी के धंधे पर पूरी तरह प्रतिबन्ध है। इसके बावजूद लॉटरी के अवैध धंधेबाज पुलिस को खुलेआम चुनौती देते हुए लोगों की गाढ़ी कमाई को चुना लगा रहे हैं। 


Breaking News : गोही के मुखिया राजेश सहनी हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, खुलेंगे कई राज.




समस्तीपुर, 22 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर जिले की पुलिस को आज बड़ी कामयाबी मिली है। मिली जानकारी के अनुसार के वारिसनगर थाने की पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गोही के मुखिया राजेश सहनी हत्याकांड के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है।

बताया गया है कि पुलिस ने गुप्त सुचना के आधार पर वारिसनगर प्रखंड के माधोपुर पंचायत के वार्ड संख्या - 5 के निवासी मो. बदरुल अंसारी के पुत्र मो. गुलाम उर्फ वसीम को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक उक्त हत्याकांड में मुख्य अभियुक्त है । इसकी गिरफ्तारी से मुखिया हत्याकांड की साज़िश में शामिल कई छुपे रुस्तम का फर्दाफ़ाश होने की संभावना है। बताया जाता है गिरफ्तारी के बाद उसने पूछताछ में पुलिस को कई अहम जानकारी दी है। उसने इस हत्याकांड से जुड़े कई लोंगों के बारे में बताया है। इस गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस अन्य को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है।


बता दें कि बीते 24 दिसंबर को घर से वारिसनगर जाने के दौरान पहले से घात लगाए अपराधियों ने मुखिया राजेश सहनी को गोली मारकर जख्मी कर दिया था। उसके बाद पटना में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। मुखिया पर हुए जानलेवा हमले पर उनकी पत्नी के बयान पर 6 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। लेकिन अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं हो प् रही थी। 


वहीं इस हत्याकांड में अभियुक्तों की गिरफ़्तारी को लेकर पुलिस पर ढिलाई बरतने का आरोप लगा था। पशुपालन एवं मत्स्य मंत्री मुकेश सहनी ने दिवंगत मुखिया राजेश कुमार सहनी ने दिवंगत मुखिया के परिजनों से मुलाकात किया था और कार्रवाई का भरोसा दिया था। उसके बाद मंत्री ने एसपी से इस हत्याकांड में शमिल लोंगो की अविलम्ब गिरफ्तारी की मांग की थी।


Samastipur News : समस्तीपुर के दलसिंहसराय में बैखौफ हुए अपराधी, आए दिन हो रहे हत्या व गोलीबारी से दहशत में लोग.



समस्तीपुर, 22  जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय में अपराधी बैखौफ हो गए हैं। आए दिन छोटी-छोटी बात हो या जमीनी विवाद हो चाहे आपसी रंजिश में लोग खून बहाने से परहेज नही करते हैं। इसका नतीजा है आए दिन हत्याकांड को अंजाम दिया जा रहा है। मालपुर में पंच की गोली मारकर हुई हत्या से पहले भी चाय दुकानदार सुमित राय के घर डबल मर्डर हो या होटल कारोबारी कौशिक कमल की गोली मारकर हत्या का प्रयास करने का मामला कहीं न कही बदमाश पूरी तरह बेलगाम हो चुके हैं । मानो बदमाशों के जेहन से पुलिस का खौफ ही समाप्त हो चुकी है। हर बार घटना के बाद पुलिस बदमाशों की गिरफ्तारी का दम तो भरती है लेकिन समय बीतने के साथ सभी मामलों को ठंडे बस्ते में डाल देती है।

अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज : मालपुर-पुरवारी पट्टी वार्ड संख्या छह निवासी अट्टा चक्की व्यवसायी सह पंच प्यारे साह के पुत्र कैलाश साह (40 वर्ष) की गोली मारकर हुई हत्या मामले में मृतक के पुत्र कर्ण कुमार के बयान अज्ञात बदमाशों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है । हालांकि बयान में घटना के कारणों का जिक्र नही किया गया है । वही पुलिस कई बिदुओं पर जांच में जुटी है । पंच का शव घर पहुंचते ही स्वजनों की चीत्कार से गांव द्रवित

थाना क्षेत्र के मालपुर-पुरवारीपट्टी वार्ड संख्या छह निवासी आटा चक्की व्यवसायी सह पंच प्यारे साह के पुत्र कैलाश साह (40 वर्ष) की हत्या के बाद गुरुवार को जैसे ही उसका शव पोस्टमार्टम के बाद घर लाया गया। वैसे ही हजारों की संख्या में ग्रामीणों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई। वहीं शव को देखकर पिता प्यारे साह, पत्नी रेणु देवी, पुत्र कर्ण कुमार साह व किशन कुमार सहित अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। इधर शव आने की सूचना मिलने के बाद अपर थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार मिश्र, दारोगा संगीता कुमारी, शिव कुमार त्रिपाठी, एके द्विवेदी, एएसआई शैलेन्द्र सिंह सहित पुलिस के जवान उसके घर पहुंचे। वहीं बीडीओ प्रफुल्ल चंद्र प्रकाश व मुखिया महेश्वर राम ने पीड़ित परिवार को सरकार की ओर से मिलने वाली सहायता राशि सौंपी। 

विधायक ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर ढाढस बंधाया : पंच की हत्या की सूचना के बाद विभूतिपुर विधायक अजय कुमार, जिला परिषद सदस्य किरण देवी, सरपंच धर्मेन्द्र कुमार रजक, विनोद कुमार पोद्दार ''''समीर'''', नीलम देवी, विधानचंद्र, संदीप साह, सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, रंजीत कुमार मेहता, ऋचा देवी, वन्दे महतो, संजय महतो, संतोष कुमार चौधरी सहित अन्य लोगों ने पीड़ित परिवार के सदस्यों को ढांढ़स बंधाते हुए पुलिस को जल्द से जल्द घटना में शामिल बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग की है। जानकारी के अनुसार मृतक पंच कैलाश साह गांव के वार्ड संख्या सात स्थित अपने अट्टा चक्की मिल को बंद करने के बाद देर शाम साइकिल से घर लौट रहा था। मिल के समीप ही पहले से घात लगाकर बैठे बदमाशों ने उसके सर ने गोली मार फरार हो गया। गोली की आवाज सुनकर जुटे ग्रामीणों ने घायलावस्था में उसे इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल ले गए। जहां मौजूद चिकित्सक ने उसे गंभीर स्थिति में सदर अस्पताल समस्तीपुर रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 

एसडीपीओ दिनेश कुमार पांडेय ने कहा कि मृतक का फर्द बयान लाने के लिए पुलिस को समस्तीपुर भेजा गया है। मामले को लेकर पुलिस अग्रेतर कार्रवाई में जुट गई है। हत्या के हर एक बिदुओं को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है। जल्द ही घटना का उद्भेदन कर लिया जाएगा।




Samastipur News : उजियारपुर के दवा व्यवसायी गोलीकांड में पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार.




समस्तीपुर, 21 जनवरी '22 | संवाददाता 

समस्तीपुर जिले के उजियारपुर थाना क्षेत्र की रामचंद्रपुर अंधैल पंचायत के चंदौली चौक स्थित दवा दुकानदार सहदेव राय को मंगलवार की शाम गोली मारकर जख्मी करने के मामले में पुलिस ने अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। 


दलसिंहसराय सर्किल पुलिस निरीक्षक उमाशंकर राय के अनुसार घटना के वक्त पकड़े गए आरोपित की पहचान मुसरीघरारी थाना के हुरहिया निवासी स्व. अशोक साह के पुत्र अमन कुमार के रूप में की गई है। जबकि देर रात पुलिस ने छापेमारी कर मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के विशनपुर निवासी नथुनी राय के पुत्र चंदन कुमार एवं उसी गांव के विनय दास को पकड़ने में सफलता हासिल की है। 


एसडीपीओ दलसिंहसराय दिनेश कुमार पांडेय ने बताया कि घटना को अंजाम देने में अमन व चंदन को पकड़ा गया है। जबकि विनय दास को उसका बाइक प्रयुक्त किये जाने के रूप में बतौर आरोपित के रूप में पकड़ा गया है। 


बताया कि इस वारदात में एक लाइनर सहित दो बदमाश की गिरफ्तारी जल्द हो जाएगी। हालांकि सही जानकारी जख्मी के बयान के आधार पर ही मिल सकती है। वहीं बाहर से बदमाशों के आने तथा घटना का अंजाम देने से लोगों के बीच दहशत का माहौल है।



Murder : समस्तीपुर में पंच की गोली मारकर हत्या, बाइक सवार अपराधियों ने घटना को दिया अंजाम.




समस्तीपुर, 21 जनवरी '21 | संवाददाता 

समस्तीपुर में बेखौफ अपराधियों ने एक पंच की गोली मारकर हत्या कर दी है। घटना दलसिंहसराय थाना क्षेत्र के मालपुर गांव के वार्ड सात की है। 


मिली जानकारी के अनुसार बाइक सवार अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। गोली मारने के बाद अपराधी फरार हो गए। घटना के बाद उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहाँ पहुँचते ही उनकी मौत हो गई है। 
घटना के बारे में बताया गया है कि पंच सह आटा चक्की व्यवसायी प्यारे साह के पुत्र कैलाश साह(40) की बदमाशों ने बुधवार रात गोली मारकर हत्या कर दी। घटना का कारण स्पष्ट नहीं हो सका था। 

दुकान से लौट रहा था घर : बताया गया है कि साह आटा चक्की की दुकान चलाते थे। वे वार्ड सात स्थित आटा चक्की मिल बंद करने के बाद साइकिल से घर लौट रहे थे। इसी दौरान घर से कुछ दूर पहले से घात लगाकर बैठे बदमाशों ने सिर ने गोली मार दी और फरार हो गए। 

गोली की आवाज सुनकर जुटे ग्रामीणों ने पंच को अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से नाजुक स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए समस्तीपुर रेफर कर दिया। लेकिन, रास्ते में मौत हो गई। उनके सिर में एक गोली लगी थी। इस घटना के बाद परिवार में कोहराम मच गया।

घटना की सुचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। अपर थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार मिश्र ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। वहीँ इस घटना से पुरे इलाके तनाव बना हुआ है। कारण  अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस पुरे मामले की तहकीकात कर रही है। 




Bihar News : सुपौल में नाबालिग को अगवा कर गैंगरेप, थाने में शिकायत देने गए तो पुलिस ने किया प्रताड़ित.





सुपौल , 20  जनवरी '21 | संवाददाता 


बिहार में एक बार फिर हैवानिय की घटना घटी है। नये मामले में सुपौल जिले दो युवकों ने नशीला पदार्थ सुंघाकर 16 साल की किशोरी का अपहरण करने के बाद उसके साथ गैंगरेप किया किया। इसके बाद आरोपितों ने नाबालिग को बेहोशी की हालत में उसके घर के पास छोड़कर फरार हो गए। घटना जिले के लौकहा ओपी क्षेत्र के एक गांव में सोमवार शाम की है।


मामले में पीड़िता के पिता की शिकायत पर महिला थाना में मंगलवार को केस दर्ज किया गया है। इसके बाद पीड़िता को मेडिकल के लिए सदर अस्पताल लाया। बताया जा रहा है कि पीड़िता (16) पड़ोसी के यहां जा रही थी। इसी क्रम में गांव के ही दो युवकों उमेश यादव और फेको यादव ने लड़की को नशीला पदार्थ सुंघाकर उसका अपहरण कर लिया और बारी-बारी से दुष्कर्म किया। 


इधर, देर शाम से ही लापता होने के कारण परिजन खोजबीन कर रहे थे तो उनकी नजर पीड़िता पर गई। इसके बाद उसे होश में लाया गया तो उसने परिजनों को घटना के बारे में बताया। मंगलवार सुबह पीड़िता के परिजन लौकहा ओपी गए तो वहां पुलिस ने परिजनों को प्रताड़ित किया और महिला थाना भेज दिया गया।



वहां से परिजन महिला थाना पहुंचे तो यहां भी उसे टरका दिया गया। बाद में सदर डीएसपी इंद्र प्रकाश को घटना की जानकारी हुई तो उन्होंने घटना को गंभीरता से लिया और केस दर्ज कर आरोपितों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। महिला थानाध्यक्ष प्रमिला कुमारी ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है। पीड़िता की मेडिकल जांच कराकर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।




शर्मनाक : बिहार से वापस अपने घर जा रही नेपाली लड़की से किया गैंगरेप, चार लोगों पर प्रथिमिकी दर्ज़ 






बिहार की राजधानी पटना में नेपाली मूल की एक लड़की से गैंगरेप करने का मामला सामने आया है। पीड़िता नेपाल के बलराज जिले की रहने वाली है। पटना में वह अपने दीदी और जीजा के पास रहती थी। गैंगरेप की घटना बीते सोमवार को अंजाम दिया गया था। बीते सोमवार यानी कि एक जून को पीड़िता अपने घर लौट रही थी। इसी दौरान रोशन नाम के युवक ने उसे अगवा कर लिया और जबरदस्ती एक अर्धनिर्मित खाली पड़े मकान में ले गया।



चार लड़कों ने मिलकर किया गैंगरेप : चार लड़कों ने मिलकर किया गैंगरेप उस मकान में पहले से ही रोशन के दो दोस्त मौजूद थे। उन सभी लड़कों ने बारी-बारी से लड़की के साथ गैंगरेप किया। जब घटना की जानकारी परिजनों को हुई तो वो राजीव नगर थाने पर पहुंचे। इसके बाद राजीव नगर थाना पुलिस ने पूरा मामला महिला थाने को सौंप दिया। बाद में महिला थाना पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि अभी भी दो आरोपित फरार चल रहे हैं।



खाली मकान में ले जाकर किया गैंगरेप : खाली मकान में ले जाकर किया गैंगरेप आरोपितों में 18 वर्षीय विकास कुमार, रोशन कुमार, मंटू कुमार और अंशु कुमार के नाम शामिल हैं। दो आरोपी अभी फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज कर लिया है और फरार दो आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। फिलहाल पीड़िता की मेडिकल जांच करवाई जा रही है।







पुराने पोस्ट
नई पोस्ट

टिप्पणी पोस्ट करें