Bihar Politics : चिराग पासवान ने सीएम नीतीश पर बोला हमला, कहा - बिहार में अपराध के लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार.





लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान (LJP President Chirag Paswan) ने फिर सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर हमला बोला है. चिराग ने कहा है कि राज्य में हो रही हत्या, लूट और बलात्कार जैसी आपराधिक वारदात के लिए खुद मुख्यमंत्री जिम्मेवार हैं. एक के बाद एक वारदात से राज्य दहल रहा है, लेकिन सीएम के साथ गृहमंत्री की कुर्सी पर बैठे नीतीश कुमार कुछ नहीं कर पा रहे हैं. बता दें कि जिले के करजा थाना इलाके के पकड़ी में बीते दिनों भीम आर्मी के पूर्व जिला अध्यक्ष रोनोजीत उर्फ जॉन पासवान नामक युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गयी थी. चिराग पासवान जॉन के परिजनों से मिलकर उनका साहस बढाने मुजफ्फरपुर पहुंचे थे.

बीती रात चिराग पासवान जब मुजफ्फरपुर पहुंचे तो मौके पर भारी भीड़ जुट गयी. उनके सामने ही स्थानीय लोगों ने सुरक्षा में मौजूद पुलिसवालों को जमकर खरी-खोटी सुनाई. चिराग पासवान ने कहा कि राजधानी में इंडिगो मैनेजर रुपेश कुमार की हत्या कर दी गयी, लेकिन अभी तक रूपेश के हत्यारे तक नहीं पकड़े जा सके.



चिराग पासवान ने कहा कि बीते 16 सालों से नीतीश कुमार सीएम हैं और पुलिस की कमान भी उन्हीं के हाथों में है, लेकिन राज्य में अपराध रूकने का नाम नहीं ले रहा है. उन्होंने अपने बयान में सीएम से कहा कि अब तो सीरियस हो जाइए. उन्होंने कहा कि पार्टी लिखित रूप में सरकार से शिकायत करेगी. चिराग पासवान ने कहा जॉन पासवान के पीड़ित परिवार को सुरक्षा दी जाए, क्योंकि हत्यारे परिजनों को धमकी दे रहे हैं.

बता दें कि मंगलवार को चिराग पासवान ने इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह के परिजनों से छपरा में मुलाकात की थी. यहां भी चिराग ने सीएम नीतीश के गृह मंत्री होने पर सवाल खड़ा किया था. छपरा में चिराग ने कहा था कि रूपेश सिंह की हत्या कुछ दिन पूर्व पटना में कर दी गई थी. हत्या के 8 दिन बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है. परिवार के सदस्यों की मांग है कि जांच होने तक परिवार को भी सुरक्षा दी जाए.



Bihar Politics :  शाहनवाज यूं ही नहीं आए बिहार, मंत्रिमंडल विस्तार में सरकार चेहरा भी बदलेगी अपना.





मंत्रिमंडल विस्तार के लिए मुख्यमंत्री की हामी के बावजूद भारतीय जनता पार्टी क्यों तारीख-दर-तारीख दे रही थी, बहुत जल्द सब साफ हो जाएगा। मौसम से जैसे-जैसे कुहासा हटेगा, विजिबिलिटी साफ होती जाएगी। वैसे, नीतीश कुमार से BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन की मुलाकात और फिर विधान परिषद् के लिए उनका टिकट धुंध हटाने की शुरुआत तो है ही। इसके साथ ही बिहार में अचानक केंद्रीय गृह मंत्री और BJP के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की एंट्री का असर देखने को तैयार रहना चाहिए। शाहनवाज की एंट्री के तत्काल बाद मुकेश सहनी को 18 महीने कार्यकाल के चुनाव के लिए राजी करा शाह ने बिहार की राजनीति पर अपनी जोरदार मुहर लगा दी है।


मोदी का कार्यकाल लिया, जल्द ही बड़ी जिम्मेदारी : बिहार के उप मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ राज्यसभा गए सुशील कुमार मोदी की विधान परिषद् वाली सीट भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन को दी गई, इसका मतलब भाजपा के पुराने दिग्गज समझ रहे हैं। लोकसभा और विधानसभा चुनावों में भाजपा मुख्यालय के निर्देश पर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाने वाले RSS बैकग्राउंड के एक बुजुर्ग कार्यकर्ता बताते हैं- “देखिए, अचानक शाहनवाज जी का नाम आया है तो सीमांचल, पश्चिम बंगाल के साथ बिहार में अल्पसंख्यक चेहरे की राजनीति तो समझ में आ ही रही है। एक बड़ी बात यह है कि सुशील मोदी भी पहले MP रहे और वहीं से शाहनवाज जी भी। मुख्यालय किसी पुराने MP, राष्ट्रीय प्रवक्ता और अल्पसंख्यक चेहरे को लेकर सामने कर रहा है तो चौंकाने वाली कई चीजें निकट भविष्य में सामने आएंगी।” भाजपा के दो सांसदों ने भास्कर से बातचीत में कहा कि चुनाव परिणाम और बेहतर आ सकते थे, लेकिन नहीं आने के पीछे विपक्ष कहीं कारण नहीं है। उम्मीद के अनुसार परिणाम नहीं आने के बावजूद सरकार स्थिर है और स्थिरता कायम रखने के लिए बैलेंस बनाना है और राष्ट्रीय प्रवक्ता को बिहार में लाने के पीछे यही ‘बैलेंस’ शब्द है।

डिप्टी CM दो ही रहेंगे, लेकिन शाहनवाज को पावर : नीतीश कुमार और शाहनवाज हुसैन की मुलाकात पर भास्कर ने एक्सक्लुसिव रिपोर्ट में यह सामने लाया था कि अरसे बाद इसके मायने निकलेंगे। यह हुआ। अब नीतीश सरकार मंत्रिमंडल विस्तार के लिए एक कदम आगे बढ़ चुकी है। इसमें कोई हिचक नहीं है कि शाहनवाज हुसैन मंत्री बनने जा रहे हैं। NDA में चल रही बेहद गंभीर चर्चा यह भी बता रही है कि मंत्रिमंडल विस्तार के बावजूद बिहार में डिप्टी CM दो रहेंगे, लेकिन शाहनवाज हुसैन को ‘पावर’ मिलेगा। इस पावर पर शाहनवाज से भास्कर भागलपुर से पटना तक सवाल कर चुका है, लेकिन वह ऐसी किसी बात पर जवाब देने को तैयार नहीं हैं। दूसरी तरफ इसकी अंदर ही अंदर तैयारी भी चल रही है।


नए बने सभी मंत्रियों की समझ-बूझ की समीक्षा : नए मंत्री कौन होंगे, भाजपा में इसपर विमर्श के साथ नई सरकार में शामिल वर्तमान मंत्रियों के कामकाज की भी समीक्षा की जा रही है। इस सूची में उन सभी मंत्रियों का नाम है, जो पहली बार मंत्री बने हैं। यह समीक्षा मुख्यालय स्तर पर चल रही है और इसमें भाजपा अपना भविष्य भी देख रही है। बताया जा रहा है कि जो मंत्री अब तक अपने विभाग का हिसाब-किताब ठीक से नहीं समझ सके हैं, उन पर भाजपा मुख्यालय की सीधी नजर है। भाजपा मुख्यालय नीतीश की तरह सोशल इंजीनियरिंग के नजरिए से भी इन चेहरों की समीक्षा कर रहा है, ताकि अहम जिम्मेदारी में भागीदारी सुनिश्चित की जा सके। वर्तमान सरकार का दूसरा मंत्रिमंडल विस्तार फाइनल हो और उसमें जल्द किसी बदलाव की जरूरत नहीं पड़े- इस लक्ष्य को भी ध्यान में रखा जा रहा है।


सीएम नीतीश कुमार की मुस्कुराहट के बाद मंत्रिमंडल विस्तार पर उनके नए बयान का मतलब क्या है?



नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार कब होगा? इस चर्चा के बीच नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के एक बयान से फिर से संशय के बादल गहरा गए हैं. नीतीश कुमार ने JDU दफ़्तर में पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं से मुलाक़ात की थी. इसके बाद मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर उन्होंने अपने चिर परिचित अंदाज में कहा- बहुत जल्द हो जाएगा मंत्रिमंडल विस्तार. इसके साथ ही जब उन्होंने यह भी कहा कि विस्तार दो दिन में होगा या दस दिन में इस पर फ़िलहाल कैसे कहूं? अब सीएम नीतीश के इसी जवाब ने बिहार की सियासत में फिलहाल कई सवाल तैरने लगे हैं.

मंत्रिमंडल विस्तार की बात पर नीतीश कुमार के इस बयान के पीछे का अर्थ खोजा जा रहा है. JDU के सूत्र बताते हैं कि नीतीश कुमार का जवाब साफ-साफ इशारा कर रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर भाजपा और JDU के बीच कुछ ऐसे पेच हैं, जिनका समाधान फिलहाल नहीं हो पाया है.

पेच नम्बर एक- बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार में दोनो पार्टियों के मंत्रियों की संख्या क्या होगी? चर्चा यही है कि JDU ने बराबर-बराबर हिस्सेदारी का दावा किया है, जिस पर मामला फंसा हुआ है.

पेच नम्बर दो- विभिन्न आयोग और बोर्ड के साथ-साथ बीस सूत्री में किस पार्टी को कितनी भागीदारी मिलेगी इस पर फ़ैसला नहीं हो पाया है. दोनों पार्टी कुछ ऐसे पदों की मांग पर अड़े हुए हैं, जिसका समाधान नहीं हो पाया है. JDU चाहती है इस पर भी फैसला मंत्रिमंडल विस्तार के साथ ही हो जाए.

पेच नंबर तीन- केंद्रीय मंत्रिमंडल में JDU की भागीदारी क्या होगी, इस पर भी तस्वीर साफ नहीं हो सकी है. केसी त्यागी ने JDU की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा था की JDU को संख्या बल के हिसाब से मंत्रिमंडल में उचित भागीदारी मिलनी चाहिए.

सूत्र बताते हैं कि JDU दो कैबिनेट और एक राज्य मंत्री का पद चाहता है. नीतीश कुमार ने भी केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार के सवाल पर कहा था कि फैसला उन्हें करना है, इस पर मैं क्या कहूं. जाहिर है ये कुछ ऐसे सवाल हैं. जिसका जवाब भाजपा और JDU के नेता फिलहाल पूरी तरह से नहीं खोज पाए हैं जिसकी वजह से मंत्रिमंडल विस्तार में देर हो रही है.


सीएम नीतीश से मिले संजय जायसवाल और तारकिशोर प्रसाद, मंत्रिमंडल विस्तार पर हुई चर्चा.




बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने रविवार शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की है. सूत्रों के मुताबिक, दोनों नेताओं के बीच मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चा हुई है. लगभग चालीस मिनट तक चली मुलाकात में दो सीटों पर होने वाले एमएलसी उपचुनाव को लेकर भी बातचीत होने की संभावना जताई जा रही है. बैठक के दौरान राज्य के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता तारकिशोर प्रसाद भी वहां मौजूद थे.

बैठक के बाद मुख्यमंत्री आवास से निकलते हुए संजय जायसवाल ने इसे एक औपचारिक मुलाकात बताया. मंत्रिमंडल विस्तार पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि सोमवार सुबह तक का इंतजार करिए. उनकी बातों से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि मंत्रिमंडल विस्तार पर सत्तारूढ़ गठबंधन के दोनों बड़े दलों (बीजेपी-जेडीयू) के बीच सहमति बन गई है.

दरअसल, सोमवार सुबह ग्यारह बजे एमएलसी उपचुनाव को लेकर नॉमिनेशन होना है. बीजेपी ने एक दिन पहले ही अपने मुख्य प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन को उम्मीदवार बनाया है. सोमवार सुबह वो पटना में अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे. वहीं दूसरा नाम विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के मुकेश साहनी का आ रहा है. हालांकि छह की बजाए मात्र चार वर्ष का कार्यकाल शेष बचे होने को लेकर वो नाराज बताए जा रहे हैं.



Samastipur News, Samastipur News in Hindi, Samastipur latest News, Samastipur Hindi News, Samastipur Samachar, Samastipur Hindi Samachar, Samastipur Breaking News, Samastipur Nagar Nigam, Samastipur Town, Samastipur City, Samastipur Today, Samastipur News Today, Samastipur ki khabare, Samastipur Taja Samachar, Samastipur City News, Samastipur Hindi News Paper, Dalsinghsarai News, Rosera News, Patori News, Hasanpur News, Bihar News, Bihar News in Hindi, Bihar Latest News, Patna News, Bihar Today
पुराने पोस्ट
नई पोस्ट

टिप्पणी पोस्ट करें